Thursday, November 26Asatya Mochan

पायलट की वापसी पर गहलोत कैंप के कई MLA खफा, मीटिंग में किया विरोध

राजस्थान के जैसलमेर में चल रही कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सीएम अशोक गहलोत समर्थक विधायकों ने सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों पर आलाकमान की दरियादिली पर नाराजगी जताई है. सूत्रों के अनुसार इस मीटिंग में एक दर्जन से ज्यादा विधायकों ने सचिन पायलट के खिलाफ विधायक दल की बैठक में बयान दिया है.

  • पायलट की वापसी से कइयों का संकट
  • विधायक दल की बैठक में विरोध
  • ‘भरोसा दे आलाकमान, नहीं होगा नेतृत्व परिवर्तन’

राजस्थान के जैसलमेर में चल रही कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सीएम अशोक गहलोत समर्थक विधायकों ने सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों पर आलाकमान की दरियादिली पर नाराजगी जताई है. सूत्रों के अनुसार इस मीटिंग में एक दर्जन से ज्यादा विधायकों ने सचिन पायलट के खिलाफ विधायक दल की बैठक में बयान दिया है.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फोटो-पीटीआई)

पायलट की वापसी से विरोध के सुर

रिपोर्ट के मुताबिक कई विधायकों को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सचिन पायलट की वापसी पर बोलने को कहा गया था, लेकिन मीटिंग के दौरान कई विधायकों ने आलाकमान के खिलाफ बोलने से साफ इनकार कर दिया. जबकि कुछ ऐसे विधायक थे जिन्होंने सचिन पायलट के खिलाफ बोलना उचित नहीं समझा. फिर भी लगभग एक दर्जन विधायकों ने सचिन पायलट और दूसरे बागी विधायकों को इस तरह से पार्टी में एक बार फिर से वापस लेने पर नाराजगी जताई.

पढ़ें-सचिन पायलट की वापसी पर बोले खाचरियावास- गहलोत गुट में है नाराजगी

नेतृत्व परिवर्तन न करने का मांगा भरोसा

कुछ विधायकों ने मांग की कि आलाकमान ये घोषणा कराए कि राज्य में पूरे पांच तक कोई नेतृत्व परिवर्तन नहीं होगा और अशोक गहलोत बतौर सीएम अपना कार्यकाल पूरा करेंगे. दरअसल गहलोत समर्थक विधायक राज्य में किसी तरह का नेतृत्व बदलाव नहीं चाहते हैं. सचिन पायलट के वापस आने के बाद इन विधायकों को लग रहा है कि राज्य में एक बार फिर से नेताओं की जिम्मेदारी बदल सकती है.

पढ़ें- राजस्थान: शनिवार को पलट गया पायलट का गेम, पढ़ें सचिन की वापसी की INSIDE STORY

बता दें कि एक महीना पहले ही सचिन पायलट के पास राजस्थान में दोहरी जिम्मेदारी थी. वे राजस्थान के डिप्टी सीएम तो थे ही, साथ ही वे राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष भी थे.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर भी चर्चा

जैसलमेर में कांग्रेस विधायक दल की मीटिंग के दौरान एक विधायक ने यह भी कहा कि आलाकमान ये घोषणा करे कि नए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा को हटाया नहीं जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.